बसेड़ा के बच्चों ने सीखा कथक नृत्य

प्रेस विज्ञप्ति बसेड़ा के बच्चों ने सीखा कथक नृत्य स्पिक मैके कार्यशाला बसेड़ा तक पहूंची बसेड़ा(छोटीसादड़ी) 7 अगस्त , 2018 ...

सोमवार, 25 दिसंबर 2017

बसेड़ा में आरोहण बैंड की प्रस्तुति और शिक्षक दिवस पर नुक्कड़ नाटक

प्रेस विज्ञप्ति
बसेड़ा में आरोहण बैंड की प्रस्तुति और शिक्षक दिवस पर नुक्कड़ नाटक
बसेड़ा में हुई करिअर केन्द्रित कार्यशाला

बसेड़ा(छोटी सादड़ी) 7 सितम्बर, 2017
राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय बसेड़ा में शिक्षक दिवस केन्द्रित कई आयोजन हुए जिनसे विद्यालय में पाठ्य सहगामी गतिविधियों के लिए स्पेस बढ़ा है। बीते पांच सितम्बर को देशभर में समारोहपूर्वक मनाए गए शिक्षक दिवस का एक अनोखा रंग बसेड़ा में भी उकेरा गया। बसेड़ा हिंदी क्लब के आमंत्रण पर चित्तौड़गढ़ से आरोहण म्यूजिकल बैंड और रीडर्स कोर्नर नामक समूह के कई साथी बसेड़ा आए। विद्यालय के प्रथम सहायक प्रभु दयाल कूड़ी ने बताया कि ग्रामीण परिवेश में नवाचार और ऐसी उत्साहवर्धक गतिविधियाँ यहाँ के युवाओं में प्रेरणा जगा रही है। परिणाम आने में कुछ वक़्त लगेगा मगर आशाजनक बात यह है कि बसेड़ा के विद्यार्थी बढ़ चढ़कर हिस्सेदारी कर रहे हैं

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मोत्सव के मौके पर दसेक स्कूली बच्चों ने हेड बॉय अर्जुन मेघवाल के निर्देशन में पुष्कर आंजना, विपुल मीणा आदि ने विभिन्न अध्यापकों की भूमिका निभाकर कक्षाओं का संचालन किया रीडर्स कोर्नर चित्तौड़गढ़ के संयोजक और सेन्ट्रल एकेडमी स्कूल के अर्थशास्त्र व्याख्याता महेंद्र नंदकिशोर ने कक्षा नौ से बारहवीं के विद्यार्थियों के साथ एक करिअर केन्द्रित कार्यशाला का आयोजन किया। महेंद्र ने कई कहानियां सुनाई और कुछ सफल लोगों के प्रेरक प्रसंग साझा किए जिनमें पिकासो, सुंदर पिच्चई, बिल गेट्स और माउंटेन गर्ल पूर्णा शामिल हैं। उन्होंने कहा कि हम किस तरह बिना किसी पर निर्भर रहे अपना लोहा मनवा सकते हैं यह हमें महान लोगों से सीखना चाहिए। गाँवो में बच्चों की एक ही समस्या है वो है अपने आप को कमतर आँकते हैं जबकि ऐसा नहीं होना चाहिए। वो यह समझ पाने में असमर्थ जान पड़ते हैं कि जितना अंग्रेजी बोलना ज़रूरी है उतना ही जरुरी है नि:स्वार्थ स्वयंसेवा करना है ग्रामीण भारत में सबसे बड़ी अच्छाई यह है कि संसाधनों की कमी के बावजूद बच्चे मेहनत करना चाहते हैं और बुलंदियों के सपने देखते हैं

इसी अवसर पर रीडर्स कोर्नर के शैलेश छत्रपाल, नजमुल हसन और प्रांजल दवे ने स्वच्छ भारत अभियान की थीम पर एक नुक्कड़ नाटक खेला जिसे सदन ने बहुत सराहा। स्कूली बच्चों के सहयोग से हुए इस मंचन ने आयोजन को ऊंचाई दी। दोपहर बाद हुए समारोह में स्कूली शिक्षकों सहित आगंतुक अतिथियों का श्रीफल, कुंकुम, लच्छा और उपहार भेंट करके छात्रा ममता मीणा, दीपिका आंजना और कोमल आंजना ने अभिनन्दन किया गया। आयोजन में निम्बाहेड़ा तहसील स्थित पायरी स्कूल के हिंदी व्याख्याता पवन चौधरी विशिष्ट अतिथि थे। साहित्यिक उद्बोधन में छात्रा बबली धोबी, इतिहास व्याख्याता प्रेमाराम कुमावत ने विचार व्यक्त किए वहीं चर्चिता तिवारी ने अब्राहम लिंकन का वह प्रसिद्द पत्र पढ़ा जो उन्होंने ने अपने बच्चे के शिक्षक को लिखा था। वहीं बाद में आरोहण ग्रुप के संयोजक आसिफ़ और सह संयोजक हेमंत सालवी के निर्देशन में सांस्कृतिक कार्यक्रम हुआ जिसमें उनकी टोली ने कई फ़िल्मी, गैर फ़िल्मी और प्रेरणापरक गीत सुनाए कि आयोजन म्यूजिकल बन पड़ा। देर तक बच्चे झूमते और लयबद्ध तालियाँ बजाते हुए आनंदित नज़र आएआरोहण बैंड में गायिका दिविशा, गायक साजन भाट, पुनीत ओझा, गिटारिस्ट विपिन जैन, ड्रमर दिलीप जोशी, सन्नी, साउंड प्रबंधक जुनैद शैख़ और समन्वयक पायल पुरोहित शामिल थी। देहाती इलाके में इस तरह की बैंड प्रस्तुति ने अलग ही रंग जमाया। शिक्षक दिवस केन्द्रित इन आयोजन का संचालन बसेड़ा हिंदी क्लब संयोजक माणिक और छात्र दीपक धोबी ने किया। हिंदी क्लब का आगामी आयोजन चौदह सितम्बर को हिंदी दिवस के रूप में होगा

माणिक,संयोजक,बसेड़ा हिंदी क्लब

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें

Follow by Email