शनिवार, 20 जनवरी 2018

प्रेस विज्ञप्ति: बसेड़ा में बिखरी सतरंगी छटा

प्रेस विज्ञप्ति

बसेड़ा में बिखरी सतरंगी छटा 
चित्रकारों की कूंची से बसेड़ा हुआ सराबोर 
आर्ट केम्प ने मन मोहा



बसेड़ा(छोटीसादड़ी) 19 जनवरी, 2018

शहीद ए आज़म भगत सिंह, महात्मा गांधी और पंडित जवाहर लाल नेहरू सहित कई ख्यात चरित्र बसेड़ा में तब साकार हो उठे जब आर्ट केम्प में बारह चित्रकारों ने अपनी कूंची का कमाल दिखाया। कहीं प्राकृतिक छठा तो कहीं आदिवासी पेंटिंग की छटा उभरी। कहीं बालिका शिक्षा तो कहीं मेवाड़ की प्रसिद्द लोक चित्र शैली फड़ की आभा नज़र आई। युवा चित्रकारों के आमंत्रित समूह के साथ स्कूल के बीस विद्यार्थियों ने भी हाथ आजमाए और अपने हुनर को निखारा। कन्या भ्रूण हत्या से लेकर पर्यावरण जागरूकता और स्वच्छ भारत मिशन के ढेरों सन्देश महसूसे गए। अब तक वंचित बच्चों ने पहली मर्तबा ब्रश, वाटर बेस कलर और स्टेंसिल से पेंटिंग के तरीके सजीव रूप से अनुभव किए। रंगों की संगत में यह एकदम जुदा और शानदार अनुभूति थी। किसी ने मांडने बनाकर किनोरे सजाई तो किसी ने सजावट के आर्टिकल बनाए। बच्चों की आँखों में गज़ब का उत्साह और उमंग थी

यह अवसर था छोटी सादड़ी तहसील में स्थित राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय बसेड़ा का जहां चित्तौड़गढ़ आर्ट सोसायटी के संयुक्त तत्वावधान में एक दिवसीय आर्ट केम्प का आयोजन किया गया प्रधानाचार्य महेंद्र प्रताप गर्ग ने कहा कि अठारह जनवरी गुरुवार को हुए इस यादगार कार्यक्रम की शुरुआत सभी चित्रकारों के परिचय और उन्हें कुमकुम तिलक एवं मौली बंधन बांधकर की गयी। आवभगत के सारे अंदाज़ देसी और ग्रामीण संस्कृति से ओतप्रोत थे। बसेड़ा हिंदी क्लब के सभी वोलंटियर ने इस कार्यक्रम का संयोजन किया। दीप प्रज्ज्वलन चित्तौड़गढ़ आर्ट सोसायटी के अध्यक्ष लक्ष्मी नारायण वर्मा, विजय आर्ट क्लासेज निम्बाहेड़ा के प्रबंधक विजय बैरवा और नीरजा मोदी स्कूल चित्तौड़गढ़ की फाइन आर्ट व्याख्याता प्रतिभा यादव ने किया

दिनभर चले आर्ट केम्प ने इलाके के इस सरकारी विद्यालय में नई ऊर्जा का संचार कर दिया। देहाती क्षेत्र में इस तरह के नवाचार से विद्यार्थी और शहर से आए सभी चित्रकार बेहद आनंदित हुए। चित्तौड़गढ़ आर्ट सोसायटी के संयोजक मुकेश शर्मा ने बताया कि हमें इस तरह के काम से आत्मिक संतोष मिलता है। हम खुद गावों से निकालें हैं इसलिए इस तरह की गतिविधि को विशेष आनंद और श्रद्धा के साथ निभाते हैं। उन्होंने कहा कि तीन से सात फरवरी तक इसीलिए हम छठा चित्तौड़गढ़ आर्ट फेस्टिवल बेगूं तहसील के नंद्बाई गाँव में आयोजित करने जा रहे हैं। आर्ट सोसायटी के युवा फड़ चित्रकार दिलीप जोशी ने बताया कि यहाँ सभी चित्रकार खुद वोलंटियर बनकर आए हैं। चित्तौड़गढ़ से दीपिका शर्मा, गौरव कुमावत, सुमित उपाध्याय और निम्बाहेड़ा से चित्रा बांगड़, रिया पगारिया, रितिका पगारिया. स्वामी विवेकानंद मोडल स्कूल निम्बाहेड़ा की कला अध्यापिका नीतू नामदेव ने भी चित्रकार के तौर पर सक्रिय हिस्सेदारी निभाई

आर्ट केम्प में बसेड़ा और बाड़ी के प्राकृतिक तालाब का भ्रमण भी शामिल रहा। आर्ट केम्प के सूत्रधार बसेड़ा हिंदी क्लब से संयोजक माणिक, बीएड ट्रेनी अभिलाषा आंजना, ग्राम पंचायत सहायक श्रीमती स्मृति शर्मा, पप्पू पुरोहित, सी एल मीणा, प्रेमाराम कुमावत, भैरू लाल मीणा थे। इसी मौके पर इक्को क्लब प्रभारी रमन कुमार गहलोत और स्वच्छता प्रभारी जगदीश सेंगर ने विद्यालय में क्यारी निर्माण और साज सज्जा की। दिनभर की चहल-पहल में कई ग्रामीण जन भी चित्रकारी देखने आएप्रधानाचार्य महेंद्र प्रताप गर्ग ने ऐसी उत्साहवर्धक गतिविधियाँ आगे भी आयोजित करने का भरोसा दिलाया। आयोजन में सेन्ट्रल एकेडमी सीनियर सेकंडरी स्कूल चित्तौड़गढ़, मोडल स्कूल निम्बाहेड़ा, चित्तौड़गढ़ आर्ट सोसायटी, विजय आर्ट क्लासेज निम्बाहेड़ा का सहयोग रहा


माणिक 

बसेड़ा हिंदी क्लब संयोजक

मंगलवार, 16 जनवरी 2018

बसेड़ा के बच्चों को निशुल्क स्वेटर और युनिफोर्म वितरण

प्रेस विज्ञप्ति
बसेड़ा के बच्चों को निशुल्क स्वेटर और युनिफोर्म वितरण
सरकारी स्कूल के विद्यार्थी जो भी चाहे बन सकते हैं- गोवर्धन आंजना
18 जनवरी को बसेड़ा स्कूल में होगा आर्ट केम्प

बसेड़ा(छोटीसादड़ी) 16 जनवरी, 2018 



हमारा मानना है कि सरकारी स्कूल के विद्यार्थी अपने जीवन में जो निश्चय कर लें वह बन सकते हैं। हमारे आसपास और अतीत में ऐसे कई उदाहरण हैं जहां राजकीय विद्यालय के छात्र-छात्रा बहुत ऊंचे पदों तक पहुंचे हैं। बसेड़ा स्कूल के साथ यहाँ के अभिभावक और भामाशाह कंधे से कंधा मिलाकर चल रहे हैं और आगे भी सामुदायिक सहभागिता में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। हम वार्षिक परीक्षा परिणाम में अच्छे प्रदर्शन करने वालों को नकद पुरस्कार भी देने का मन रखते हैं। ज़रूरतमंद बच्चों को हरसंभव मदद का वादा करते हैं

यह विचार प्रतापगढ़ जिले की छोटीसादड़ी तहसील स्थित राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय बसेड़ा में भामाशाह पहलवान गोवर्धन आंजना ने बतौर मुख्य अतिथि व्यक्त किए। सोलह जनवरी मंगलवार सुबह सम्पन्न इस आयोजन में सबसे पहले बसेड़ा के साठ वर्ष की उम्र पार चयनित वरिष्ठ नागरिकों का शाल ओढ़ाकर सम्मान किया गया जिनमें मोहन लाल कहार, शंकर लाल रावत, चम्पा लाल भील, कारू लाल मेघवाल और प्रभु लाल कहार शामिल हैं। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए ग्राम पंचायत बसेड़ा के पूर्व सरपंच बिरदीचंद आंजना ने विद्यालय के बदले हुए स्वरुप पर खुशी व्यक्त करते हुए विद्यालय स्टाफ की तारीफ़ की। 

ग्राम पंचायत सहायक विनोद कुमार आंजना और अध्यापक मथुरा लाल रेगर के संयोजन में अतिथियों द्वारा विद्यालय के लगभग तीस विद्यार्थियों को स्कूली गणवेश तथा पंद्रह बच्चों को स्वेटर और मौजे वितिर्ट किए। इस तरह का उपहार पाकर सभी बच्चे प्रसन्न नज़र आए। आयोजन की शुरुआत में स्वागत उदबोधन प्रधानाचार्य महेंद्र प्रताप गर्ग ने देते हुए स्कूल में चल रहे समस्त प्रोजेक्ट का विवरण दिया। अतिथियों का स्वागत हेड टीचर और राजनीति विज्ञान विषय के व्याख्याता प्रभु दयाल कुड़ी ने किया। इसी अवसर पर सन्डे लाइब्रेरी वोलंटियर भूपेंद्र आंजना द्वारा दी गयी जानकारी से प्रेरित होकर कई दानदाताओं जैसे फ़तेह लाल आंजना, चंद्रेश आंजना, उदय लाल पहलवान, शिवलाल लौहार, कपिल आंजना, गोविन्द शर्मा, गोपाल लाल मोती मंगरी, मोहन लाल आंजना, शम्भू लाल प्रजापत, प्रभु लाल, सोनू शर्मा अनिल मोती मंगरी, गोवर्धन आंजना पहलवान, बिरदीचंद आंजना सहित कई लोगों ने सन्डे लाइब्रेरी हेतु छब्बीस जनवरी तक आर्थिक सहयोग देने का वादा किया। 

समारोह का संचालन बसेड़ा हिंदी क्लब संयोजक माणिक ने किया। आयोजन के सूत्रधार वरिष्ठ अध्यापक भैरू लाल मीणा, छुट्टन लाल मीणा और शारीरिक शिक्षक नन्द किशोर दुबे थे। स्टूडेंट वोलंटियर पूजा प्रजापत, दीपक ढोली और पवन शर्मा ने अहम् भूमिका निभाई। इस अवसर पर स्वच्छता प्रभारी जगदीश सेंगर और विद्यालय वाटिका निर्माण प्रभारी रमण कुमार गहलोत ने सभी अतिथियों को विद्यालय के गतिमान प्रोजेक्ट दिखाए

करिअर का चुनाव सोच समझकर करें- जगन्नाथ सोलंकी
बसेड़ा में हुई करिअर केन्द्रित वार्ता 

बसेड़ा विद्यालय में मंगलवार के दिन ही शिक्षाविद जगन्नाथ सोलंकी ने कक्षा नौ से बारहवीं तक के विद्यार्थियों को स्वामी विवेकानंद केन्द्रित युवा सप्ताह के तहत एक व्याख्यान दिया जिसमें उन्होंने विद्यार्थियों को राष्ट्र और अपने दायित्व निर्वहन की जानकारी के साथ ही इस मुश्किल समय में अपनी दिशा के बारे में गहन विचार करने के लिए प्रेरित किया इस विशेष व्याख्यान के संयोजक इतिहास विषय व्याख्याता प्रेमाराम कुमावत और ग्राम पंचायत सहायक पप्पू पुरोहित ने बताया कि अतिथि वक्ता सोलंकी वर्तमान में श्री हरीश आंजना महाविद्यालय छोटी सादड़ी के प्राचार्य हैं और शिक्षा विभाग में प्रधानाचार्य के पद से सेवानिवृत साथी हैं। इस व्याख्यान में बच्चों ने भी प्रश्नोत्तरी आदि से अवसर का पूरा लाभ उठाया। उन्होंने आगे भी विद्यार्थी हित में ऐसे व्याख्यान की श्रृंखला आयोजित करने का आश्वासन दिया


18 जनवरी को बसेड़ा स्कूल में होगा आर्ट केम्प
एक दर्जन चित्रकार आ रहे हैं बसेड़ा

राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बसेड़ा के प्रधानाचार्य महेंद्र प्रताप गर्ग ने कहा कि बसेड़ा स्कूल में अठारह जनवरी का दिन आर्ट केम्प के नाम रहेगा। चित्तौड़गढ़ आर्ट सोसायटी के संयोजक मुकेश शर्मा के निर्देशन में चित्तौड़गढ़ जिले के लगभग एक दर्जन चित्रकार इस आर्ट केम्प में हिस्सेदारी करने जा रहे हैं। एक दिवसीय आर्ट केम्प के इस विशेष आयोजन में चित्रकारों की संगत में विद्यार्थी स्कूल की दीवारों पर अपने मन माफिक चित्र उकेरेंगे। इस तरह का आयोजन इस इलाके में पहली बार हो रहा है तो सभी के बीच उत्साह का माहौल है। चित्रकारों के बीच यह दिन विद्यार्थियों को देशभर की विभिन्न चित्र शैलियों से परिचय के नाम रहेगा। आमंत्रित चित्रकारों में मुकेश शर्मा, फड़ चित्रकार दिलीप जोशी, डिजायनर राहुल यादव, फाइन आर्ट अध्यापिका प्रतिभा यादव, चित्रा बांगड़, विजय बैरवा, नीतू नामदेव, दीपिका शर्मा सहित चित्तौड़गढ़ आर्ट सोसायटी के अध्यक्ष लक्ष्मी नारायण वर्मा शामिल हैं। आर्ट केम्प का समन्वयन अध्यापक कैलाश चंद माली, बीएड ट्रेनी अभिलाषा आंजना और ग्राम पंचायत सहायक श्रीमती स्मृति शर्मा करेंगे 

माणिक
बसेड़ा हिंदी क्लब संयोजक 

यह ब्लॉग खोजें

Follow by Email